अग्निवीर की तैयारी कैसे करें? चयन प्रक्रिया,सिलेबस,मेडिकल टेस्ट पूर्ण जानकारी

12 वीं पास नौकरी LETEST UPDATE Trending News

अग्निवीर की तैयारी कैसे करें

 आत्मनिर्भर और सशक्त भारत के सपने को साकार करने की दिशा में देश के युवा महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। इस दिशा में अग्निपथ योजना उन्हें एक कदम और आगे ले जाएगी। सशस्त्र बलों में शामिल होने और राष्ट्र की सेवा करने के उनके सपने को पूरा करने का यह एक सुनहरा अवसर है। भारतीय वायुसेना ने अग्निवीर भर्ती की अधिसूचना जारी कर दी है। अग्निवीर भर्ती की ऑनलाइन लिखित परीक्षा 17 मार्च 2024 से शुरू होगी। अगर आप भी इसमें नौकरी पाने की ख्वाहिश रखते हैं तो आपको इसके लिए निर्धारित योग्यता और शर्तों को पूरा करना पड़ेगा। इसमें सफल होने के लिए अभ्यर्थियों को कई तरह की स्ट्रेटजी तैयार करनी पड़ती है। अच्छी प्रिपरेशन और स्ट्रेटजी आपको सफलता दिला सकती है।

How to prepare for Agniveer

चयन प्रक्रिया

  • योग्य उम्मीदवारों के चयन के लिए तीन चरण आयोजित होंगे। पहले चरण में ऑनलाइन परीक्षा होगी। इसमें पास होने वाले अभ्यर्थियों को दूसरे चरण के लिए बुलाया जाएगा। इसमें शारीरिक दक्षता परीक्षा देनी होगी। साथ ही अडेण्टेबिलिटी टेस्ट-1 और 2 देना होगा।
  • तीसरे चरण में योग्य अभ्यर्थियों को मेडिकल टेस्ट के लिए भेजा जाएगा।
  • जो अभ्यर्थी लिखित परीक्षा पास कर लेंगे, उनके प्रमाणपत्रों का डिटेल्ड वेरिफिकेशन (विस्तृत रूप से सत्यापन) किया जाएगा। इस दिन मांगे गए सभी दस्तावेजों/ प्रमाणपत्रों की मूल प्रति लेकर जाना होगा।

ऑनलाइन परीक्षा का स्वरूप

यह परीक्षा विषयों और ट्रेड के तीन वर्ग में आयोजित होगी और समय भी उसी के आधार पर दिया जाएगा।

  • साइंस विषय (वर्ग-1) : इसमें इंग्लिश, फिजिक्स और मैथ्स विषयों से सवाल पूछे जाएंगे। यह बारहवीं स्तर के होंगे। परीक्षा के लिए 60 मिनट का समय दिया जाएगा।
  • अन्य विषय (वर्ग-2): इसमें इंग्लिश, रीजनिंग एंड जनरल अवेयरनेस (आरएजीए) से जुड़े सवाल होंगे। इंग्लिश के प्रश्न बारहवीं स्तर के होंगे। परीक्षा के लिए 45 मिनट का समय दिया जाएगा।
  • साईस और अन्य विषय (वर्ग-3): इस वर्ग में तीन विषयों इंग्लिश, फिजिक्स, मैथ्स तथा रीजनिंग और जनरल अवेयरनेस से सवाल पूछे जाएंगे। इस परीक्षा के लिए 85 मिनट का समय दिया जाएगा।
  •  वर्ग-1 वाले अभ्यर्थी वर्ग-3 की परीक्षा में भी बैठ सकते हैं। इन्हें फॉर्म में इसका विकल्प देना होगा।
  • गलत उत्तर देने पर नेगेटिव मार्किंग होगी। प्रत्येक गलत उत्तर पर 25 अंक काटे जाएंगे।

अडेप्टेबिलिटी टेस्ट-1 अग्निवीर की तैयारी कैसे करें

  • यह परीक्षण यह निर्धारित करेगा कि विभिन्न प्रकार के स्थानों, मौसम की स्थिति और परिचालन स्थितियों में तैनाती कितनी अच्छी तरह काम करती है।

अडेप्टेबिलिटी टेस्ट-2  अग्निवीर की तैयारी कैसे करें

  • भारतीय वायु सेना अग्निवीर चयन प्रक्रिया 2024 के हिस्से के रूप में, यह परीक्षण मूल्यांकन करता है कि उम्मीदवार भारतीय वायु सेना के विशिष्ट वातावरण को कितनी अच्छी तरह अनुकूलित कर सकते हैं और क्या वे सैन्य जीवन
  • शैली को आसानी से समायोजित कर सकते हैं। यह भारतीय वायु सेना में आने वाली चुनौतियों और मांगों को संभालने के लिए आवेदक की क्षमता की जांच करता है। इसका उद्देश्य ऐसे उम्मीदवारों की तलाश करना है जो सहजता से अनुकूलन कर सकें, लचीलापन दिखा सकें और भारतीय वायु सेना की कठिन जीवनशैली को अपनाने के लिए मानसिक रूप से तैयार हों।

शारीरिक दक्षता परीक्षा

  • अग्निवीर में दौड़ कितनी चाहिए? :- 1.6 किलोमीटर की दौड़ पुरुष उम्मीदवारों को सात मिनट और महिला उम्मीदवारों को आठ मिनट में पूरी करनी होगी।
  • उठक-बैठक : पुरुष: 20 महिला: 15
  • सीट-अप्स : पुरुष: 10 महिला: 10
  • पुश-अप्स (केवल पुरुष): 10
  • सूचना : फिजिकल फिटनेस टेस्ट में पास होना अनिवार्य है।

मेडिकल टेस्ट में क्या  परीक्षण किए जाएंगे

  • सीरम कोलेस्ट्रॉल का स्तर ।
  • यूरिया, यूरिक एसिड और क्रिएटिनिन का माप।
  •  लिवर फंक्शन टेस्टं (एलएफटी), जिसमें सीरम बिलीरुबिन, एसजीओटी और एसजीपीटी शामिल हैं।
  • सीने का एक्स-रे
  • स्वापक औषधियों और मनःप्रभावी मादक द्रव्यों के सेवन के लिए स्क्रीनिंग।
  • चिकित्सा अधिकारी की ओर से आवश्यक समझे जाने वाला कोई अतिरिक्त परीक्षण।

आर्मी अग्निवीर का सिलेबस क्या है?

परीक्षा की तैयारी शुरू करने के लिए संपूर्ण पाठ्यक्रम और परीक्षा पैटर्न को समझना जरूरी होता है। पाठ्यक्रम के सभी महत्वपूर्ण विषयों को शामिल कर एक रणनीति विकसित करनी चाहिए। इसके बाद विषयों को शेड्यूल के अनुसार विभाजित करना चाहिए कि आप प्रत्येक विषय को कितना समय दे सकते हैं। ऐसा करने से आप अपना सिलेबस समय पर पूरा कर पाएंगे।

  • उम्मीदवारों को पूरे पाठ्यक्रम का ध्यानपूर्वक अध्ययन करना चाहिए। पाठ्यक्रम में अंग्रेजी, मैथ्स, फिजिक्स, रीजनिंग और जनरल अवेयरनेस विषय शामिल होते हैं। इन विषयों पर केंद्रित कर तैयारी करें तो सफलता मिल सकती है।
  • अंग्रेजी: फिलर्स, क्रिया विशेषण, पैराग्राफ को पूरा करना, काल, प्रिपोजिशन, विशेषण, विलो और पर्यायवाची, व्याकरण में त्रुटि, डिटरमिनर्स, क्लोज टेस्ट, वाक्य पूरा करना, समझबूझ कर पढ़ना।
  • मैथ्स : समय और कार्य, लाभ और हानि, चक्रवृद्धि ब्याज, साधारण ब्याज, प्रतिशत, औसत, संख्या श्रृंखला, मिश्रण, पाइप और टंकी, अनुमानित, गति, समय और दूरी, साझेदारी।
  • फिजिक्स : पदार्थ और विकिरण की दोहरी प्रकृति,प्रकाशिकी, विद्युत चुम्बकीय तरंगें, परमाणु और नाभिक, इलेक्ट्रोस्टाटिक्स तरंगे, दोलन, विद्युत चुंबकीय प्रेरण और प्रत्यावर्ती धाराएं, करंट और चुंबकत्व के चुंबकीय प्रभाव, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, कम्युनिकेशन सिस्टम, फिजिकल वर्ल्ड एंड मिजरमेंट, करंट इलेक्ट्रिसिटी।
  • रीजनिंग: ब्लड रिलेशन, इनपुट-आउटपुट, सिचुएशन रिएक्शन टेस्ट, युक्तिवाक्य, अल्फान्यूमेरिक स्ट्रिंग कोड की असमानताएं, सिटिंग अरेजमेंट, पहेली, कोडिंग- डिकोडिंग, रैकिंग, डायरेक्शन, वर्णमाला परीक्षण, तालिका बनाना, डाटा सफिशिएंसी।
  • जनरल अवेयरनेस : नैशनल एंड इंटरनेशनल करंट अफेयर्स, देश और मुद्राएं, बाइनरी लॉजिक, क्लासीफिकेशन, सोलर सिस्टम, एनालोगिस, भारत के राज्य और राजधानियां, पुरस्कार और सम्मान, महत्वपूर्ण दिन, खेल शब्दावली, विश्व का भूगोल, आविष्कार और खोज।

How to prepare for Agniveer

अग्निवीर की तैयारी कैसे करें

ये टिप्स मी अपनाएं

1. पिछले वर्षों के प्रश्न पत्र हल करें पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल किए बिना परीक्षा की तैयारी अधूरी रहेगी। पुराने प्रश्न पत्र हल करने से उम्मीदवारों को उनके कमजोर बिदुओं और टाइम मैनेजमेंट स्किल का अंदाजा लगाने में मदद मिलेगी। इससे उनकी प्रश्न को हल करने की गति और सटीकता में सुधार होगा, जो वास्तविक परीक्षा के लिए फायदेमंद होगा।

2. रिवीजन नियमित करें: नियमित रिवीजन परीक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। सभी विषयों के नोट्स का समय-समय पर रिवीजन फायदेमंद साबित होगा। परीक्षा की तैयारी के अंतिम चरण में उम्मीदवारों को यह सलाह दी जाती है कि वे कोई भी नया विषय चुनने से बचे क्योंकि इससे भ्रम और तनाव पैदा हो सकता है।

अग्निवीर में भर्ती होने के लिए क्या करें?

3. मॉक टेस्ट का अभ्यास करें किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए सबसे अच्छे तरीकों में से एक मॉक टेस्ट का अभ्यास करना है। मॉक टेस्ट आपको परीक्षा पैटर्न, पूछे गए प्रश्नों के प्रकार और परीक्षा को निश्चित समय सीमा के भीतर पूरा करने के लिए आवश्यक समय प्रबंधन कौशल को समझने में मदद करते हैं। परीक्षा से पहले के दिनों में जितना संभव हो उतने मॉक टेस्ट का अभ्यास करें।

4. टाइम मैनेजमेंट जरूरी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए समय का प्रबंधन महत्वपूर्ण है। अग्निवीर वायु परीक्षा भी ऐसी ही है। निर्धारित समय सीमा के भीतर प्रश्नों को हल करने का अभ्यास करें। इससे आपको वास्तविक परीक्षा के दौरान अपना समय बेहतर ढंग से प्रबंधित करने में मदद मिलेगी।

5. करंट अफेयर्स से अपडेट रहें : परीक्षा के सामान्य ज्ञान अनुभाग के लिए समाचार पत्र पढना चाहिए। टीवी में भी समाचार देखना चाहिए और नवीनतम घटनाओं से अपडेट रहना चाहिए। इससे आपको राजनीतिक, आर्थिक, अंतर्राष्ट्रीय संबंधों के सवालों का जवाब देने में मदद मिलेगी।

6. संयमित और शांत रहे परीक्षा के दौरान शांत और सयमित रहना महत्वपूर्ण है, घबराहट और चिता से बचें, गहरी सांसे लें और आराम करने की कोशिश करें याद रखें कि आपने अच्छी तैयारी की है और आप परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करने में सक्षम है।

 इन महत्वपूर्ण पुस्तकों का अध्ययन करें

  1.  इंग्लिश ग्रामर विषय के लिए लेखक ब्रेन एड मार्टिन
  2. ऑब्जेक्टिव इंग्लिश के लिए लेखक आरएस अग्रवाल 
  3. कान्सेप्ट ऑफ फिजिक्स के लिए लेखक एचसी वर्मा
  4. प्रिंसिपल ऑफ फिजिक्स के लिए लेखक डेविड हॉलिडे
  5. मैथ की मात्रात्मक योग्यता के लिए लेखक आरएस अग्रवाल 
  6. फास्ट ट्रैक आब्जेक्टिव मैथमेटिक्स के लिए राजेश वर्मा
  7. वर्षल एंड नॉन-वर्बल रीजनिंग के लिए आरएस अग्रवाल
  8. नॉन-वर्बल रीजनिंग के लिए अरिहंत प्रकाशन 
  9. जनरल अवेयरनेस के लिए प्रतियोगिता दर्पण-पीडी ग्रुप

Bihar Deled Admission 2024 प्रवेश परीक्षा की सूचना ऑनलाइन आवेदन करे 

Short Term Courses After 12th सर्दी की छुट्टी में इन छोटे-छोटे कोर्सों को पूरा करें

CMS ED Course Fees Eligibility Details In Hind

Panchayati Raj Vibhag Vacancy Bihar 2024 

Bihar Vidhan Sabha Vacancy 2024

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *