DMLT course क्या है,DMLT course कैसे करें?

DMLT MEDICAL JOBS NURSING JOBS

DMLT Course का पूर्णजानकारी

DMLT (Diploma in Medical Laboratory Technology) कोर्स चिकित्सा प्रयोगशाला प्रदेश में एक डिप्लोमा पाठ्यक्रम है, जिसमें छात्रों को चिकित्सा प्रयोगशाला तकनीशियन के रूप में प्रशिक्षित किया जाता है। यह कोर्स चिकित्सा जगत में लैब टेक्नीशियन के रूप में करियर बनाने के इच्छुक छात्रों के लिए एक अच्छा विकल्प है। नीचे दिए गए पूर्णजानकारी आपको DMLT कोर्स के बारे में जानकारी प्रदान करेगी:

  1. पाठ्यक्रम की अवधि: DMLT कोर्स आम तौर पर 1 वर्ष की अवधि का होता है। कुछ संस्थानों में यह 6 महीने से लेकर 2 वर्ष तक भी हो सकता है।
  2. पाठ्यक्रम का विषय: DMLT कोर्स के भाग में निम्नलिखित विषयों पर अधिकांश ध्यान दिया जाता है:
    • प्रयोगशाला प्रबंधन
    • रोग और रोगी के विज्ञान
    • ब्लड बैंकिंग और ट्रांसफ्यूजन
    • क्लिनिकल पैथोलॉजी
    • बैक्टीरियलॉजी
    • बायोकेमिस्ट्री
    • हेमेटोलॉजी
    • सीरोलॉजी
    • इम्यूनोलॉजी
    • पैरासाइटोलॉजी
    • ऑटोप्सी तकनीक
  3. पाठ्यक्रम के लिए पात्रता: यह कोर्स 10+2 (किसी भी प्रमाणिक बोर्ड से) या समकक्ष के साथ विज्ञान (Physics, Chemistry, Biology) विषय में पास होने की आवश्यकता होती है।
  4. प्रशिक्षण की प्रक्रिया: DMLT कोर्स के लिए प्रशिक्षण के लिए आप नजदीकी मेडिकल शिक्षा संस्थानों या विश्वविद्यालयों में आवेदन कर सकते हैं, जो DMLT प्रशिक्षण प्रदान करते हैं। चयन आधार पर आपको कोर्स में प्रवेश मिलेगा।
  5. करियर विकल्प: DMLT पूरा करने के बाद, आप मेडिकल लैबोरेटरी, रोगी संबंधी विज्ञान, रोगी संबंधी प्रबंधन और संबंधित क्षेत्रों में लैब टेक्नीशियन के रूप में काम कर सकते हैं।

DMLT कोर्स विभिन्न सरकारी और निजी संस्थानों में उपलब्ध होता है और यह छात्रों को मेडिकल लैब के क्षेत्र में प्रोफेशनल ट्रेनिंग प्रदान करता है। यह एक प्राथमिक स्तरीय कोर्स है, जो आपको विभिन्न प्रयोगशालाओं और चिकित्सा संस्थानों में नौकरी के लिए तैयार करता है

DMLT का पूरा नाम क्या है :⇒DMLT का पूरा नाम “Diploma in Medical Laboratory Technology” है।

DMLT course क्या है

DMLT का मतलब होता है “Diploma in Medical Laboratory Technology” जो चिकित्सा प्रयोगशाला प्रौद्योगिकी के विभिन्न पहलुओं में प्रशिक्षण प्रदान करने वाला एक डिप्लोमा पाठ्यक्रम है। इस कोर्स का उद्देश्य छात्रों को चिकित्सा प्रयोगशाला तकनीशियन (Medical Laboratory Technicians) के रूप में प्रशिक्षित करना होता है।

DMLT के अंतर्गत, छात्रों को विभिन्न प्रकार के लैब टेक्नोलॉजी टेस्ट, ब्लड टेस्ट, यूरीन टेस्ट, सीरम टेस्ट, पैथोलॉजी, बैक्टीरियलॉजी, बायोकेमिस्ट्री, हेमेटोलॉजी, इम्यूनोलॉजी, पैरासाइटोलॉजी आदि का ज्ञान दिया जाता है। इन विभिन्न टेस्टों को करने के लिए उचित तकनीकी ज्ञान और संचालन के बारे में भी शिक्षा दी जाती है।

DMLT कोर्स के उद्देश्य निम्नलिखित होते हैं:

  1. विभिन्न चिकित्सा परीक्षणों और जांचों के लिए नमूने लेने, प्रोसेस करने, रिपोर्ट करने और उन्हें संचालित करने का क्षेत्रविशेष ज्ञान प्रदान करना।
  2. चिकित्सा प्रयोगशाला में उच्चतम स्तर की नैतिकता और शुद्धता के साथ काम करना।
  3. नवीनतम चिकित्सा प्रयोगशाला तकनीकों और प्रक्रियाओं के बारे में अपडेटेड ज्ञान प्राप्त करना।
  4. विभिन्न पेशेवर और चिकित्सा संस्थानों में एक उच्च गुणवत्ता वाले चिकित्सा प्रयोगशाला तकनीशियन के रूप में रोजगार के अवसर की प्राप्ति।

DMLT कोर्स छात्रों को चिकित्सा विज्ञान, प्रयोगशाला विज्ञान और लैब तकनीकों में विशेषज्ञता प्राप्त करने का एक अच्छा माध्यम प्रदान करता है जिससे वे चिकित्सा प्रयोगशाला विभाग में नौकरी कर सकते हैं या अपना खुद का प्रयोगशाला खोल सकते हैं।

DMLT course कैसे करें? (DMLT Course details in Hindi 2023-2024)

DMLT कोर्स करने के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन करें:

  1. पाठ्यक्रम के लिए पात्रता: DMLT कोर्स के लिए आपको 10+2 (किसी भी प्रमाणिक बोर्ड से) या समकक्ष के साथ विज्ञान (Physics, Chemistry, Biology) विषय में पास होने की आवश्यकता होती है। इससे पहले आपको कुछ संस्थानों में एंट्रेंस परीक्षा देनी भी पड़ सकती है।
  2. विशेष संस्थानों के चयन: DMLT कोर्स के लिए कई राज्य सरकारी और निजी संस्थान उपलब्ध होते हैं। अपने नजदीकी क्षेत्र में या पसंदीदा संस्थानों में आवेदन करें।
  3. आवेदन प्रक्रिया: आवेदन प्रक्रिया में आपको आवेदन फॉर्म भरने, आवश्यक दस्तावेज़ जमा करने, और एंट्रेंस परीक्षा या चयन प्रक्रिया के लिए उपस्थित होने की आवश्यकता हो सकती है।
  4. पाठ्यक्रम की अवधि: DMLT कोर्स आम तौर पर 1 वर्ष की अवधि का होता है, लेकिन कुछ संस्थान इसे 6 महीने से लेकर 2 वर्ष तक भी कराते हैं।
  5. करियर विकल्प: DMLT कोर्स पूरा करने के बाद, आप मेडिकल लैबोरेटरी, रोगी संबंधी विज्ञान, रोगी संबंधी प्रबंधन और संबंधित क्षेत्रों में लैब टेक्नीशियन के रूप में काम कर सकते हैं।

DMLT course का  योग्यता (DMLT Course का  Qualification क्या है

DMLT (Diploma in Medical Laboratory Technology) कोर्स के लिए योग्यता निम्नलिखित होती है:

  1. शैक्षणिक योग्यता: आवेदक को 10+2 (किसी भी प्रमाणिक बोर्ड से) या समकक्ष परीक्षा में विज्ञान (Physics, Chemistry, Biology) विषय में पास होना अनिवार्य होता है।
  2. विषय: आवेदक को 10+2 में उपर्युक्त विज्ञान विषयों के साथ पास होना चाहिए।
  3. अधिकांश उम्मीदवार अपने द्वारा चयनित संस्थानों में एंट्रेंस परीक्षा या मेरिट के आधार पर चयन किया जाता है।

यह जान लें कि योग्यता और प्रवेश प्रक्रिया विभिन्न संस्थानों और राज्यों में अलग-अलग हो सकती है, इसलिए आपको अपने इच्छित संस्थानों की वेबसाइट या अधिकृत सूचना पत्रों को जांचना चाहिए जो विशेष योग्यता और प्रवेश प्रक्रिया के बारे में अधिक जानकारी प्रदान करते हैं।

DMLT course कितने साल का होता है?
डीएमएलटी (DMLT) कोर्स एक प्रशिक्षण प्रोग्राम है जिसमें आपको प्रायः पैथोलॉजी, रेडियोग्राफी, माइक्रोबायोलॉजी, एंड हेमेटोलॉजी जैसे विभिन्न रोगों के डायग्नोसिस और परीक्षण के लिए प्रशिक्षित किया जाता है।

डीएमएलटी कोर्स की अवधि अलग-अलग इंस्टीट्यूट्स और राज्यों में भिन्न हो सकती है। यह कुछ इंस्टीट्यूट्स में 1 वर्ष से लेकर कुछ अन्य इंस्टीट्यूट्स में 2 वर्षों का होता है। आमतौर पर, इस प्रोग्राम की अवधि 1 से 2 वर्षों के बीच होती है।

इसलिए, अगर आप डीएमएलटी कोर्स करने की योजना बना रहे हैं, तो अपने इच्छित इंस्टीट्यूट या कॉलेज के ताजा तौरीखों और पाठ्यक्रम विवरण को सुनिश्चित करने के लिए उनसे संपर्क करें।

ANM Course क्या है,ANM Course कैसे करें?

Freenaukari.com

DMLT कोर्स का सिलेबस:-
डीएमएलटी (DMLT) कोर्स का सिलेबस विभिन्न इंस्टीट्यूट्स और कॉलेजों के अनुसार थोड़ा भिन्न हो सकता है, लेकिन आमतौर पर यह कुछ मुख्य विषयों को कवर करता है जो डीएमएलटी कोर्स के दौरान पढ़ाए जाते हैं।

  1. पैथोलॉजी: रक्त, मूत्र, बाल, त्वचा और अन्य शरीर के विभिन्न बायोलॉजिकल सामग्री के पठनीय का समाधान करना।
  2. माइक्रोबायोलॉजी: विभिन्न माइक्रोऑर्गेनिज्मों की पहचान, संगठन और विशेषताओं का अध्ययन।
  3. एंड हेमेटोलॉजी: रक्त और संबंधित समस्याओं के परीक्षण, परिवर्तन और ट्रांस्फ्यूजन।
  4. रेडियोग्राफी: एक्स-रे की छवियों का विश्लेषण करने की तकनीकें और रचनात्मक परिष्करण।
  5. क्लिनिकल चेमिस्ट्री: विभिन्न अनुमानित उपचार परीक्षणों के साथ रक्त और दूसरे शरीर के उपादानों की जाँच।
  6. हिस्टोपैथोलॉजी: ऊतक और उनके रचनात्मक विश्लेषण का अध्ययन, विभिन्न संप्रेषण तकनीकों का उपयोग करके।
  7. इम्यूनोहिस्टोकेमिस्ट्री: टिश्यू सेक्शन के भीतर विशिष्ट प्रोटीन्स का पता लगाने की तकनीक।
  8. सिटोजेनेटिक्स: सेलों के रचनात्मक विश्लेषण के लिए तकनीकों का अध्ययन।
  9. बैक्टीरियोलॉजी: बैक्टीरिया की पहचान, संरचना, विशेषताएं और परीक्षण।
  10. क्लिनिकल प्रैक्टिस और बायोसेफ्टी: प्रशासनिक विविधता और बायोसेफ्टी के लिए अनुशासनिक दिशानिर्देश।

DMLT course का Fee कितना है:-

डीएमएलटी (DMLT) कोर्स का फीस भी इंस्टीट्यूट और कॉलेज के बीच भिन्नता दिखा सकता है और यह भी बाकी अनुक्रम में दी गई जानकारी के आधार पर बदल सकता है।

डीएमएलटी कोर्स की फीस आमतौर पर भारत में 10,000 से 50,000 रुपये प्रति वर्ष के बीच हो सकती है। यह राज्य और इंस्टीट्यूट के स्तर पर भी अलग-अलग हो सकती है। अतः, अपने इच्छित इंस्टीट्यूट या कॉलेज के तरफ से प्रदान की जाने वाली आधिकारिक जानकारी के लिए संबंधित संस्थान से संपर्क करें।

DMLT course का कार्य क्या हैं:-

डीएमएलटी (DMLT) कोर्स के पास किए गए विद्यार्थी डायग्नोस्टिक लैबोरेटरी में काम करने के लिए प्रशिक्षित होते हैं। डीएमएलटी कोर्स का काम निम्नलिखित क्षेत्रों में किया जा सकता है:

  1. ब्लड सैंपल लेना: रक्त के नमूने का संग्रह करना, उदाहरण के लिए रक्त दान और रक्त परीक्षण के लिए सैंपल लेना।
  2. रक्त और उपादानों का परीक्षण: रक्त के शरीर के अन्य उपादानों का परीक्षण करना, जैसे कि मूत्र, सीएसएफ, सीएसएस, सीएबी, इत्यादि।
  3. पैथोलॉजी और हिस्टोपैथोलॉजी: त्वचा, ऊतक और सेल नमूनों को विश्लेषण करना और पथोलॉजी से संबंधित परीक्षण करना।
  4. क्लिनिकल चेमिस्ट्री: रक्त और उपादानों की विभिन्न विशिष्ट विश्लेषण परीक्षण करना, जैसे कि ग्लूकोज, ट्रिग्लिसेराइड, क्रिएटिन, बिलीरुबिन, विटामिन डी इत्यादि।
  5. इम्यूनोलॉजी: रक्त में विभिन्न उत्तेजक प्रतिक्रिया और अन्य इम्यूनोलॉजिक टेस्ट्स का परीक्षण करना।
  6. रेडियोग्राफी: एक्स-रे छवियों को पठनीय करना और रेडियोग्राफिक टेस्ट्स का सहायक काम करना।
  7. माइक्रोबायोलॉजी: विभिन्न प्रकार के बैक्टीरिया, वायरस, फंगस और पैराजिट विश्लेषण करना।
  8. सिटोपैथोलॉजी: सेलों के मौलिक रचनात्मक विश्लेषण करना।
  9. बैक्टीरियोलॉजी: बैक्टीरिया का परीक्षण और पहचान करना

DMLT का सैलरी क्या है

डीएमएलटी (DMLT) के सैलरी भी कई फैक्टर्स पर निर्भर करती है, जैसे कि रोजगार का स्थान, नौकरी के प्रकार, नौकरी का स्तर, अनुभव, और क्षेत्रिय और राष्ट्रीय मानक।

आमतौर पर, एक नौकरशाही डीएमएलटी तकरीबन 15,000 से 30,000 रुपये प्रति माह के बीच कमाता है। अगर उनके पास अधिक अनुभव है, तो यह सैलरी उच्च हो सकती है।

कुछ अन्य उदाहरण हो सकते हैं:

  1. फ्रेशर डीएमएलटी तकरीबन 10,000 से 20,000 रुपये प्रति माह कमा सकता है।
  2. एक वरिष्ठ डीएमएलटी अधिक अनुभव रखता है, तो उनकी सैलरी 30,000 रुपये से ऊपर जा सकती है।
  3. अधिकतम वेतन बड़े अस्पतालों, खुदका लैब चलाने, या विशेष संस्थानों में प्रायः उपलब्ध होता है।

 

INDIA के Top 10 DMLT Colleges

मेरे ज्ञान के अनुसार, डीएमएलटी (DMLT) के टॉप 10 कॉलेज की सूची निम्नलिखित है:

  1. All India Institute of Medical Sciences (AIIMS), New Delhi
  2. Christian Medical College (CMC), Vellore
  3. Armed Forces Medical College (AFMC), Pune
  4. Kasturba Medical College (KMC), Manipal
  5. Seth G.S. Medical College, Mumbai
  6. King George’s Medical University (KGMU), Lucknow
  7. Madras Medical College (MMC), Chennai
  8. Post Graduate Institute of Medical Education and Research (PGIMER), Chandigarh
  9. Sri Ramachandra Medical College and Research Institute (SRMC), Chennai
  10. Government Medical College, Kozhikode

DMLTके बाद नौकरी कहा कर सकते है

डीएमएलटी (DMLT) के बाद आप कई जगहों पर नौकरी कर सकते हैं। यह कोर्स आपको डायग्नोस्टिक लैबोरेटरी में काम करने के लिए प्रशिक्षित करता है और आप निम्नलिखित क्षेत्रों में रोजगार पाने में मदद करता है:

  1. अस्पताल: आप बड़े अस्पतालों, सरकारी अस्पतालों, निजी अस्पतालों और चिकित्सा संस्थानों में डायग्नोस्टिक लैबोरेटरी में नौकरी कर सकते हैं।
  2. डायग्नोस्टिक सेंटर: यह डायग्नोस्टिक सेंटर या प्राइवेट लैब शहरों में उपलब्ध होते हैं और आप इन स्थानों पर भी नौकरी पा सकते हैं।
  3. रिसर्च संस्थान: कुछ बड़े मेडिकल रिसर्च संस्थान और विश्वविद्यालय डायग्नोस्टिक लैबोरेटरी में भी नौकरी की जा सकती है।
  4. फार्मा कंपनियां: फार्मा कंपनियों में आप रसायन विज्ञान, डायग्नोस्टिक उपकरणों, रक्त परीक्षण उपकरणों और अन्य चिकित्सा उपकरणों के डिवेलपमेंट और टेस्टिंग में काम कर सकते हैं।
  5. अनुसंधान: आप चिकित्सा अनुसंधान संस्थानों और विश्वविद्यालयों में डायग्नोस्टिक लैबोरेटरी में रिसर्च वैज्ञानिक के रूप में भी काम कर सकते हैं।
  6. शिक्षण संस्थान: आप डीएमएलटी के बाद अन्य छात्रों को प्रशिक्षित करने के लिए शिक्षण संस्थानों में भी अध्यापन के क्षेत्र में नौकरी पा सकते हैं।

ये कुछ उन क्षेत्रों में से हैं जहां आप डीएमएलटी के बाद अपना करियर बना सकते हैं। अपने रुचि और अधिकार्य के अनुसार, आप अपनी पसंदीदा जगह पर अधिक जानकारी जुटा सकते हैं और अपनी कैरियर योजना को आगे बढ़ा सकते हैं।

DMLT BEST BOOK 2023-2024

  1. “Textbook of Medical Laboratory Technology” by Praful B. Godkar
  2. “Essentials of Medical Laboratory Technology” by Ramnik Sood
  3. “A Concise Textbook of Medical Laboratory Technology” by Arpit Shrivastava
  4. “Medical Laboratory Technology Methods and Interpretation” by Ramnik Sood
  5. “Medical Laboratory Technology: Volume 1” by P. B. Godkar and Darshan P. Godkar
  6. “Clinical Laboratory Medicine” by Kenneth D. McClatchey

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *