Bihar shataabdee nijee nalakoop yojana 2023 ऑनलाइन आवेदन करे

LETEST UPDATE सरकारी योजना
private tubewell scheme 2023

 

Service  Name बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना 2023
Beneficiary Farmers Of Bihar
Subsidy Amount 35,000/-  to 70,000/-
Authority Minor Water Resources Department, Bihar
Short Information बिहार एक कृषि प्रधान राज्य है, जिसकी 80 % जनसँख्या कृषि पर आधारित है |

कृषि के लिए सिंचाई एक मुख्य कारक है | गत वर्षों में मानसून की अनिश्चितता एवं अल्प वर्षापात की स्थिति के

कारण भूजल आधारित सिंचाई पर निर्भरता बढ़ गयी है |निजी नलकूप योजना के बारे में|बिहार में किसानों की स्थिति

सुधारने के लिए सरकार द्वारा बोरिंग या नलकूप लगाने पर सब्सिडी प्रदान करने के लिए बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना शुरू की गई हैं। |

इस पोस्ट को पढ़कर आपको Bihar Niji Nalkup Yojana Online Apply से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी इसलिए इस पोस्ट पर अंत तक जुड़े रहे |

What Is Poshan Abhiyan पोषण अभियान 2.0 क्या है

बिहार निजी नलकूप योजना में कितना अनुदान राशि मिलेगा

Table of Contents

 बिहार सरकार पहले नलकूप योजना के अंतर्गत साइलो नलकूप की बोरिंग के लिए ₹100 प्रति मीटर की दर से किसानों को अधिकतम ₹15000 तक का राहत  मिलता है

लेकिन बिहार सरकार ने पता किया तो किसानों को इसमें ज्यादा पैसा लगता था लगभग 20,000 ज्यादा पैसा बोरिंग कराने में लग जाता था जिससे  जिससे किसानों को बहुत  खर्चों का सामना करना पड़ता था

इसीलिए बिहार सरकार ने निजी नलकूप योजना की राशि को बढ़ाकर ₹35000 करने का फैसला लिया |

इसीलिए बिहार सरकार ने  निजी नलकूप योजना के तहत 183 पर पड़ती सीट और अधिकतम ₹35000 और अनुदान राशि देने का प्रावधान किया है

 अगर वह किसान मोटर पंप खरीदना है तो बिहार सरकार उससे मोटर पंप का आधा पैसा भी देती है | 

निजी नलकूप योजना का उद्देश्य

 बिहार निजी नलकूप योजना का उद्देश्य किसानों की खेती को सुगम और प्रभावी बनाना होता है।

इस योजना के अंतर्गत, किसान नलकूप (बोरवेल) खुद स्थापित कर सकते हैं जिससे उन्हें स्वतंत्रता मिलती है की

वे खेत में अपनी समय और संसाधनों को समय पर निकाल सकें।

नलकूप खुदाई करने से, किसान अपनी भूमि में पानी की खोज करते हैं और उचित स्थान पर पानी की पर्याप्त उपलब्धता को

पाने में सक्षम होते हैं। इससे उन्हें वर्ष भर में कई बार बुआई और फसल की देखभाल के लिए पानी उपलब्ध होता है।

यह योजना खेती पर निम्नलिखित प्रकार से प्रभाव डालती है:

  • पानी की उपलब्धता: नलकूप के स्थापना से किसानों को नियमित पानी की उपलब्धता होती है,
  • जिससे वे समय पर पानी का उपयोग करके अपनी फसलों की देखभाल कर सकते हैं।
  • जल संचयन: नलकूप के माध्यम से, किसान वर्ष भर में पानी का संचय कर सकते हैं
  • जो अवकाश के समय उनकी फसलों के लिए उपयुक्त होता है।
  • स्वतंत्रता: नलकूप खुदाई से किसान अपने खेती के पानी संसाधन को स्वयं नियंत्रित कर सकते हैं
  • और उन्हें पानी के आधार पर खेती पर निर्णय लेने की स्वतंत्रता मिलती है।
  • उत्पादकता की वृद्धि: यह योजना किसानों को पानी के संसाधनों को समय पर उपयोग करने की अनुमति देती है,
  • जिससे उनकी उत्पादकता बढ़ती है और उन्हें अधिक मुनाफा होता है।

इस प्रकार, निजी नलकूप योजना किसानों को समृद्ध, सुरक्षित और स्वतंत्र खेती का अवसर प्रदान करती है।

बिहार निजी नलकूप योजना का  लाभ किसको मिलेगा 

 बिहार निजी नलकूप योजना का लाभ केवल बिहार राज्य के किसानों को सिर्फ मिलेग

बिहार निजी नलकूप योजना का लाभ केवल बिहार राज्य के किसानों को सिर्फ मिलेगा 

इस योजना के तहत सभी किसान अपनी खेती के लिए नलकूप लगा सकेंगे और अनुदान राशि प्राप्त कर सकते हैं

इस योजना का लाभ सभी बिहार राज्य के सभी प्रखंडों में प्रारंभ कर दिया गया है

बिहार निजी नलकूप योजना के लिए और कोई किसान 70 मीटर तक की गहराई करते हैं तो उसे 328 के प्रति मीटर की दर से अधिकतम ₹35000 अनुदान राशि दिया जाएगा और  और कोई किसान नगर  नलकूप के लिए 1 मीटर तक की गहराई करते हैं तो उसे ₹597 प्रति मीटर की दर से अधिकतम राशि ₹70000 तक का अनुदान राशि किसानों को दिया जाएगा |

बिहार निजी नलकूप योजना के लाभ क्या है

  • बिहार निजी नलकूप योजना का लाभ 2022-2023 में निम्न है
  • बिहार निजी नलकूप योजना में इस बार 30 हजार नलकूप  लगेगा
  •  ऑनलाइन आवेदन करने के बाद अनुदान की राशि सीधे किसानों के खाते में जाएगा
  • बिहार निजी नलकूप योजना का लाभ बिहार के सभी किसानों को मिलेगा जो बहुत ही आर्थिक रूप से कमजोर है   
  • जिससे बोरिंग कराने के लिए सक्षम पैसा नहीं है लेकिन अब सरकार के द्वारा में सभी किसान बिहार निजी
  • नलकूप योजना के तहत सभी किसान बोरिंग करा कर अपना खेती की सिंचाईआसानी से कर सकते हैं |
  • निजी नलकूप योजना के तहत सभी किसान अपनी जमीन पर बोरिंग या नलकूप लगा के इस योजना कालाभ प्राप्त कर सकते हैं |
  • Bihar Niji Nalkup yojanaको बिहार के सभी राज्य के प्रखंडों में लागू कर दिया गया है  इस योजना के लाभ के लिए बिहार के कोई भी किसान आवेदन कर सकते हैं |
  • बिहार निजी नलकूप योजना के लिए है बिहार सरकार द्वारा अगर कोई किसान अपनी खेती के लिए अपनी खेत पर बोरिंग या नकुप  लगाते हैं तो उसे 135रु प्रति  फीट के लिए ₹15000 तक का राशि दिया जाता है|
  • परंतु बिहार में कुछ जगह ऐसा भी है जहां पानी बहुत गहराई तक नहीं मिलता है इसीलिए किसान  अगर उस जगह बोरिंग कराते हैं तो उसे ₹183रु  प्रति फीट की दर से अधिकतम ₹35000 तक का सब्सिडी बिहार राज सरकार के द्वारा प्रदान  किया जाता है |

इस योजना का लाभ सभी बिहार किसानों को मिलेगा बस   वह भारतीय मानक ब्यूरो के मापदंड पर खरी

बिहार निजी नलकूप योजना के  लाभ   के लिए योग्यता

  • इस योजना के लाभ लेने के लिए किसान बिहार के अस्थाई निवासी होनी चाहिए |
  • बिहार निजी नलकूप योजना के लाभ लेने के लिए किसानों के पास अपने नाम पर कम से कम 40 डिसिमिल जमीन होनी चाहिए
  • योजना के तहत राज्य के लघु और गरीब किसानों को प्राथमिकता उपलब्ध कराई जाएगी
  • इस योजना के लाभ लेने के लिए किसानों के अपने नाम पर कम से कम 40 देसी मिल जमीन अपने नाम पर होनी चाहिए |

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना

बिहार निजी नलकूप योजना में लगने वाले दस्तावेज

(Documents required in Bihar private tubewell scheme)

बिहार निजी नलकूप योजना में लगने वाले दस्तावेजों का नाम निम्नलिखित हो सकता है:

  • आवेदन पत्र: इसमें योजना के लाभार्थी किसान को अपने प्रकार का आवेदन पत्र भरना होता है 
  • जिसमें उनकी खेती और नलकूप स्थापना से संबंधित जानकारी दी जाती है।
  • भूमि के संबंध में दस्तावेज: इसमें किसान को अपनी खेती से संबंधित भूमि के संपूर्ण दस्तावेज जैसे कि भूमि का प्रमाणपत्र,
  • खतौनी, खेत के सार्वजनिक विवरण, आदि जमा करने होते हैं।
  • नलकूप स्थापना के संबंध में दस्तावेज: नलकूप स्थापित करने के लिए भी कुछ दस्तावेज जमा करने होते हैं जैसे कि
  • नलकूप के स्थान का चयन, खुदाई के विवरण, नलकूप के निर्माण से संबंधित अनुमानित खर्च, आदि

आय प्रमाण पत्र: यह दस्तावेज योजना के अनुसार योजना का लाभ उठाने वाले किसान की आय के प्रमाण के लिए जमा करना होता है।

  • आधार कार्ड: किसान का आधार कार्ड भी योजना में जमा करना होता है जो उनकी पहचान के रूप में उपयुक्त होता है।
  • Pan Card 
  • Mobile Number

निजी नलकूप योजना में कितनी सब्सिडी मिलती है

बिहार निजी नलकूप योजना के अंतर्गत अगर आप सब्सिडी  कल आप बात करना चाहते हैं

तो आपको सबसे पहले ऑनलाइन करना होगा उसके आधार पर अगर किसान बोरिंग लग जाते हैं तो

कितनी गहराई तक वह बोरिंग की है अगर वह   70 मीटर ताकि गहराई की है तो उसे ₹15000 तक का सब्सिडी मिललेगा |

लेकिन  बिहार में बहुत से जगह ऐसा है जहां पानी बहुत गहराई में मिलता है तो अगर किसान वहां बोरिंग लग जाता है तो

उसे एक से 83% की दर से किसानों को 35 हजार रुपए तक सब्सिडी बिहार राज्य सरकार के द्वारा प्रदान किया जाता है

बिहार निजी नलकूप योजना के अंतर्गत अगर आप सब्सिडी  कल आप बात करना चाहते हैं तो

आपको सबसे पहले ऑनलाइन करना होगा

उसके आधार पर अगर किसान बोरिंग लग जाते हैं तो कितनी गहराई तक वह बोरिंग की है अगर वह   70 मीटर ताकि गहराई की है

तो उसे ₹15000 तक का सब्सिडी मिल लेगा लेकिन 

बिहार में बहुत से जगह ऐसा है जहां पानी बहुत गहराई में मिलता है तो अगर किसान वहां बोरिंग लगते  है तो

उसे एक से 83% की दर से किसानों को 35 हजार रुपए तक सब्सिडी बिहार राज्य सरकार के द्वारा प्रदान किया जाता है

बिहार निजी नलकूप के लिए सरकारी अनुदान की राशि

नलकूप  हेतु प्रति मीटर बोरिंग की लागत राशि 1200 ₹ अनुमानित है इस तरह सामान्य वर्ग को प्रति मीटर

₹600 रु पिछड़ा व् अति  पिछड़ा वर्ग को 840अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति को ₹960 का अनुदान मिलेगा |

ये  भी पढ़ें

 अगर कोई किसान मोटर पंप अलग-अलग अश्वशक्ति के खरीदते हैं तो उसके लिए भी सरकार

अलग-अलग ऐसा देते हैं जो इस प्रकार है

अगर कोई इंसान 2 अश्वशक्ति के मोटर पंप का खरीदते हैं तो उसे ₹20000 दिया जाएगा

 3 और 5 अश्वशक्ति के सबमर्सिबल सेट पंप खंते है तो उसे ₹25000 और ₹30000 अनुमानित  राशि दिया जाएगा 

2 अश्वशक्ति के मोटर पंप की क्षमता वाले बोरिंग के लिए सामान्य वर्ग को अधिकतम ₹52000 का अनुदान मिलेगा

 पिछड़ा व अति पिछड़ा वर्ग को 72800 रुपए मिलेगा

 अनुसूचित जाति और जनजाति को ₹83200 मिलेगा

बिहार के सभी किसानों को बिहार निजी नलकूप योजना का लाभ मिलेगा जिसके पास 4 एकड़ भूमि  होंगे |

बिहार निजी नलकूप योजना अनुदान राशि की भुगतान कैसे की जाएगी

(How will the Bihar Private Tube Well Scheme grant amount be paid?)

सबसे पहले किसानों को बिहार निजी नलकूप योजना का लाभ लेने के लिए ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन करना होगा

जिसकी प्रक्रिया हमने बहुत अच्छी तरह से इस आर्टिकल में बता दिए हैं

नलकूप लगाने के बाद या बोरिंग करने के पश्चात प्रमाण पत्र के साथ किसान अनुदान भुगतान का दावा

ऑनलाइन ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर कर सकते हैं

बोरिंग करने के बाद इसकी जांच के लिए बिहार सरकार के तरफ से कार्यपालक अभियंता कन्या अभियंता या कुछ ऑफिसर

15 दिनों का अंदर आएंगे और बोरिंग करने जगह देखेगा और जांच करेगा |

जो भी सरकारी ऑफिसर आएंगे उसके साथ शाम का फोटो और ऑफ इसरो का फोटो अपलोड करना होगा |

बिहार निजी नलकूप योजना का लाभ तभी मिलेगा किसानों को जब वह बोरिंग गार्ड नहीं अपनी क्षेत्रों में

 45 दिन के अंदर नॉर्थ नहीं गाड़ने पर स्पष्ट कारण देते हुए ऑनलाइन इसकी सूचना देना होगा

कार्यपालक अभियंता की परामर्श में अगर सब कुछ सही रहा तो 1 सप्ताह के अंदर किसान के खातों में सीधे पैसा भेज दिया जाएगा |

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना Online 2023 Important date

Service Begin Coming Soon
Online Apply Date जल्दी आने वाला है

महत्वपूर्ण लिंक(Important link)

बिहार निजी   नलकूप योजना का Online  Applie  Coming soon 
बिहार निजी नलकूप योजना लॉगिन करें 

 

 Click here
पावती रसीद प्रिंट करें Click here
दावा अपलोड करें Click here
आवेदन की स्थिति देखें Click here
बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना का ऑफिशल वेबसाइट  Click here

 

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना Helpline Number

0612-2215605/ 2215606
0612-2217161/ 2217162
0612-2217163/ 2217164
0612-2217165/ 2217450
0612-2217451/ 221745

सभी किसानों से आग्रह है कि ऑनलाइन  जल्दी बिहार सरकार के द्वारा आने वाली है इसलिए सभी किसान अपना सभी कागजात तैयार रखें क्योंकि इस बार सरकार के द्वारा बहुत ही कॉम बजट रखा गया है केवल 30,000 किसानों को ही इस योजना का लाभ मिलेगा इसीलिए जब  भी इस योजना का applie  link  Active  होगा  तो सभी  किसान अप्लाई आसानी से कर सके इसके लिए freenaukri.com पर आकर एक बार जरूर चेक कर ले कि लिंक एक्टिव हुआ है या नहीं

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *