BEd | 12वीं पास के लिए ITEP और DDU में 4 साल का बीएड कोर्स MMMUT में शुरू होगा

करियर

12वीं पास होने के बाद ही बीएड करने की चाह रखने वाले विद्यार्थियों के लिए अच्छी खबर है। अब बीएड करने के लिए स्नातक पास होना जरूरी नहीं होगा। चार वर्षीय यह पाठ्यक्रम आइटीईपी (इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम) नाम से होगा। दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय और मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय इसके संचालन की तैयारियां कर रहे हैं। एनसीटीई (नेशनल काउंसिल ऑफ टीचर एजुकेशन) में आवेदन के लिए टीम भी गठित कर दी गई है। सब ठीक रहा तो सत्र 2025-26 से इसका संचालन शुरू हो जाएगा।

BEd

BEd Admission  2025-26

एनईपी-20202 के अनुपालन में इस पाठ्यक्रम की शुरुआत होने जा रही है। एनसीटीई ने इसके लिए कुछ मानक तय किया है। उस मानक पर डीडीयू और एमएमएमयूटी दोनों खरे उतरते हैं। मानक पूरा होने में नैक में ग्रेड की बड़ी भूमिका है। एनसीटीई द्वारा निर्धारित मानक के अनुसार 10 अंक प्राप्त करने हैं। इसमें डीडीयू को ए प्लस-प्लस ग्रेड के कारण 8 अंक, एमएमएमयूटी को ए ग्रेड मिलने के कारण 6 अंक मिलेंगे। दोनों संस्थान 30 वर्ष से अधिक समय से स्थापित हैं, इसके लिए भी उन्हें चार-चार अंक मिलेंगे।

सिर्फ ये दोनों संस्थान ही मानक पर खरे : चार वर्षीय बीएड पाठ्यक्रम के संचालन के लिए जो मानदंड रखे गए हैं, उसमें गोरखपुर-बस्ती मंडल का दूसरा कोई संस्थान खरा नहीं उतरता। यानी कॉलेजों में फिलहाल चार वर्षीय बीएड पाठ्यक्रम का संचालन नहीं हो सकेगा।

इंटरमीडिएट करने के बाद ही विद्यार्थी चार वर्षीय बीएड पाठ्यक्रम में पढ़ाई कर सकेंगे। पाठ्यक्रम शुरू करने को लेकर एनसीटीई में आवेदन के लिए टीम का गठन कर दिया गया है। पूरी कोशिश है कि सत्र 2025-26 से विवि से इस पाठ्यक्रम में अध्ययन का अवसर छात्रों को मिले। – प्रो. पूनम टंडन, कुलपति, डीडीयू

एनईपी में तकनीकी संस्थानों में भी चार वर्षीय बीएड पाठ्यक्रम का प्रावधान किया गया है। इसे देखते हुए इस कोर्स के संचालन के लिए योजना बनाकर कार्य किया जा रहा है। बहुत जल्द एनसीटीई में आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। स्वीकृति मिलने के बाद बीएड पाठ्यक्रम शुरू हो जाएगा। -प्रो. जेपी सैनी, कुलपति, एमएमएमयूटी

ये अर्हता के मानदंड हैं

  • बीएड चार वर्षीय संचालन के लिए विभिन्न मानदंडों पर 10 अंक पाना अनिवार्य।
  • नैक में ग्रेड : ए प्लस-प्लस- 8 अंक, ए प्लस- 7 अंक, ए-6 अंक, बी प्लस- 5 अंक, बी-4 अंक।
  •  एनआईआरएफ : 100 रैंक तक- 4 अंक, 101 से 300 रैंक तक- 3 अंक, 301 से 500 रैंक तक- 2 अंक, 501 से अधिक- 1 अंक।
  • संस्थान की स्थापना : 30 वर्ष से अधिक- 4 अंक, 25 साल से अधिक – 3 अंक, 10 वर्ष से अधिक-2 अंक, 10 से कम-1 अंक।
  • एनसीटीई के शिक्षक शिक्षा कार्यक्रम संचालित करने वाले संस्थान : 2 अंक

Short Term Courses After 12th सर्दी की छुट्टी में इन छोटे-छोटे कोर्सों को पूरा करें

CMS ED Course Fees Eligibility Details In Hind

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *